7 चीजें जो शादी के बाद घर की याद दिलाती हैं

Loading...

शादी स्त्री के जीवन का सबसे बड़ा परिवर्तन होती है शादी के बाद आपको अपने मायके को छोड़कर जाना पड़ता है साथ ही नए रिश्ते को नई जिम्मेदारियों को अपनाना होता है । परंतु बचपन से जिस घर में पले बढ़े हुए और उस घर की याद वहां बिताए हुए सुनहरे समय को हम शायद ही कभी भूल पाते हैं ।

चाहे कितनी भी जिम्मेदारियां और कितना ही बदलाव जिंदगी में आ जाए पर हम मां बाप का स्नेह भाई बहन का लाड प्यार उनके साथ बिताया गया अनमोल समय नहीं भूल पाते हैं । अपनी मां के प्रति आपको अपने प्यार का एहसास शादी के बाद अधिक होता है |

आइए हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताते हैं जो शादी के बाद भी आपको घर की याद दिलाती हैं।

 wedding_bride

1- शादी के बाद लड़कियां खासतौर पर अपने मां के हाथ के बने खाने को बहुत याद करती हैं| किचन संभालने की जिम्मेदारी आपकी हो जाती है और मां के खाने की याद आपको आती है | किस तरह माँ आपके लिए भोजन तैयार करती थी , किस तरह आपकी मां आपसे पूछ कर ही भोजन के व्यंजन निश्चित करती थी | यह सब बातें आपके मन में आती है, जब वह आप वही जिम्मेदारियां अपने परिवार के लिए पूरा करती हैं।

2- मायके में आप जब चाहे अपने मन से सो कर उठ सकती हैं परंतु ससुराल में आपको समय से उठकर सारे कार्यों को समय पर समाप्त करना होता है | आपकी सारी दिनचर्या अस्त-व्यस्त हो जाती है कहीं ना कहीं आप मायके में असमय सो ने की अपनी आदत को याद करती हैं जहां आपके ऊपर सुबह जल्दी उठने की कोई जिम्मेदारी नहीं होती है और आप किसी भी समय सो सकती हैं |

Loading...

3- भाई बहन के साथ लड़ाई झगड़े शादी के बाद अक्सर याद आते हैं भाई बहन के साथ लड़ाई झगड़ों में असीम प्यार छुपा होता है |आप उनसे अपनी मन की सारी बातें कहना लड़ाई झगड़ा हसी मजाक बहुत याद करते हैं।

4- शादी से पहले आपको बजट व बिल को व्यवस्थित करने की कोई चिंता नहीं होती है आप इन सब चिंताओं से परे अपना जीवन व्यतीत कर रहे होते हैं | सहसा शादी के बाद घर की बजट प्रणाली आपके हाथ में आ जाती है और आपको अपने घर के खर्चे सुनिश्चित करने होते हैं | इस समय आपको अपने घर की बहुत याद आती है जहां आप इन जिम्मेदारियों से अनभिज्ञ थी ।

5- शादी के बाद स्त्रियों को ससुराल में अपने पति व सास ससुर की इच्छा के अनुसार ढलना होता है | कई बार तो आपको अपनी बात रखने की स्वतंत्रता भी नहीं होती है और कई मुद्दों पर आपकी राय भी नहीं ली जाती है|  इस समय आपको अपने मायके की याद आती है जब घर की हर बात पर आपसे राय ली जाती थी।

6- सबसे ज्यादा आप अपने घर को याद करते हैं जब आप बीमार पड़ते हैं तब मां का लाड़-प्यार आपको याद आता है और किस तरह माँ आपके स्वास्थ्य को लेकर चिंतित होती थी और आपके खाने पीने का विशेष ध्यान रखती थी ।

7- ससुराल में जाकर आप अपने पिताजी की डांट को बहुत याद करते हैं क्योंकि आप जानते हैं कि उस डांट में भी प्यार छुपा होता है | बे हर समय आपके लिए चिंतित रहते हैं और हर बात के लिए आप को समझाते हैं। शादी के बाद आप उनकी कमी महसूस करते हैं।

दोस्तों अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो कृपया इसे अधिक से अधिक शेयर करें |

loading...
Loading...

Leave a Comment

Your email address will not be published.