बच्चों के निकल रहे हैं दांत तो इन बातों का रखें ध्यान

Loading...

बच्चे ईश्वर द्वारा दिया गया मां-बाप को एक अनमोल उपहार है । बच्चे को हंसता खेलता दे खकर मां-बाप को एक सुखद अनुभव प्राप्त होता है । जब बच्चा 6 महीने का होता है तब से उसके दांत निकलने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है और अब हम ठोस भोजन भी खाने  के लिये दे सकते है ।

इस समय बच्चे अत्यधिक रोते हैं तथा कमजोर हो जाते हैं क्योंकि जब दांत मसूड़े से निकलते हैं तो बच्चों को असहनीय दर्द होता है और कई बार इस असहनीय दर्द की वजह से बच्चों में बुखार की समस्या भी आ जाती है कई बार तो यह समस्या इतनी बढ़ जाती है कि बच्चों को डायरिया या उल्टी तक हो जाती है।

इस दौरान तकलीफ होने की वजह से बच्चे दूध नहीं पीते हैं और कमजोर हो जाते हैं, और उनका हर समय कुछ ना कुछ चबाने का मन करता रहता  है।

आइये आपको दांत निकलने से पहले के लक्षणो के बारे मे बताते हैं-

  1. बच्चों में खांसी की समस्या हो जाती है।
  2. बच्चे को सोने में बेचैनी महसूस होती है और उसकी नींद पूरी नहीं होती है।
  3. दांत निकलते समय बच्चों का तरल आहार नहीं खाने का मन करता है बल्कि वह कुछ ठोस चबाने के लिए ढूंढते हैं।
  4. उल्टी की समस्या एक आम लक्षण है जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपके बच्चे के दांत निकलने वाले हैंं।
  5. बच्चे को तेज बुखार भी हो सकता है।
  6. बच्चों के मुंह की त्वचा अत्यधिक संवेदनशील हो जाती है दुखते हैं।

आप को दांत निकलने के लक्षणों के बारे में बताते हैं-

  1. बच्चे के जब दांत निकलने प्रारंभ होते हैं तो उसका हर समय कुछ ना कुछ चीज को चलाने का मन करता है।
  2. लार टपकना एक ऐसा लक्षण है जिससे पता चल जाता है कि आपके बच्चे के दांत निकल रहे हैं।
    इस समय बच्चे सामान्य की अपेक्षा अत्यधिक रोते हैं।
  3. दांत निकलने की वजह से होने वाले दर्द वह नींद में कमी की वजह से बच्चों में अक्सर चिड़चिड़ापन आ जाता है।
  4. बच्चों को भूख कम लगती  है।
  5. बच्चे दांत निकलने की में होने वाले दर्द की वजह से सोने में परेशानी महसूस करते हैं ।
  6. बत्तो  का सिर  गर्म  रहता है और आंखे भी दुखने लगती  है।
  7. मसूढे सख्त हो जाते है और सूजन  भी आ जाती है।
ये भी पढ़ें:  गर्भ में शिशु के स्वस्थ विकास के लिए मां को क्या सोचना चाहिए

आइए दोस्तों अब हम आपको कुछ ऐसे उपायों के बारे में बताते हैं जिससे आप दांत निकलने के दौरान होने वाली परेशानियों से छुटकारा पा सकते हैं-

1. मसूड़ों की मसाज करना

दिन में एक बार बच्चे के मसूड़ों की साफ मुलायम सूती और गीले कपड़े से मसाज जरूर करें करने से बच्चों के मुंह से बदबू नहीं आती है और उन्हें दांत निकलने के दर्द से भी राहत मिलती है। आप ब्रेस्टफीडिंग या फिर बोतल से दूध पिलाने के बाद कर सकते हैं।

Loading...

2. कोल्ड टीथर का प्रयोग

दांत निकलने के दौरान होने वाली परेशानियों के लिए कोल्ड टीथर एक अच्छा उपाय है दांत निकलते समय बच्चे का मन हर समय कुछ ना कुछ चलाने का अवश्य करता है तब आप अपने बच्चे को मुंह में रखने के लिए कोल्ड टीथर दे सकते हैं यह एक अच्छा उपाय है परंतु यह ध्यान रखें कि कोल्ड टीथर को कभी भी फ्रिज में ना रखें और कोल्ड टीथर को हर बार इस्तेमाल करने से पहले इस पर लाइव जरूर कर लें।

3. खान-पान

इस समय बच्चे को दी जानेवाली खाने-पीने की सामग्री का भी अवश्य ध्यान रखें यदि आपके बच्चे के दांत निकल रहे हैं और आपने उसे ठोस भोजन देना शुरु कर दिया है आप उसे शीतल भोजन ही दें परंतु ध्यान रखें खाना जमा हुआ नहीं होना चाहिए यह भी एक अच्छा उपाय है।खाने में केला  उबला हुआ सेब  व सूजी  की खीर दे सकते है।

4. मुलायम खिलौने

जब बच्चे के दांत निकल रहे होते हैं तब उसका कुछ  कुछ जमाने का मन करता रहता है अक्षर खेलने वाले खिलौनों को भी मुंह में देता रहता है इस समय ध्यान रखें कि बच्चे को खेलने के लिए मुलायम ही खिलौने दिन खिलौने खिलौने ऐसे हूं कि आप उनका प्रयोग धोकर भी कर सकें नहीं तो संक्रमण की समस्या भी उतपन्न हो जाती है जिससे बच्चा और अधिक बीमार भी हो सकती है।

ये भी पढ़ें:  जानिए आपके शिशु का चेहरा, व्यक्तित्व ,आकार कैसा होगा

5. रबर टीथर का प्रयोग करें

पानी से भरा  टीथर बाजार में आसानी से उपलब्ध हो। जाता है त था यह मसूडो  के लिए भी मुलायम रहता है जहां एक और बच्चे इससे खेलने में व्यस्त  रहते हैं दूसरी और दांत  निकलने वाली  दर्द  से होने वाली परेशानियों से भी बचते हैं यह एक अच्छा प्रयोग है ।

6. दवाइयों का प्रयोग

बच्चों के दांत  निकलते समय होने वाले दर्द से बचने के लिए आप दवाइयों का प्रयोग भी कर सकत े हैं जैसे बच्चों में दांत  निकलते समय दस्त  की समस्या आम होती है उस समय बच्चे के शरीर में पानी की कमी हो जाती है उसे पूर्र्ति करने के लिए ओआरएस का घोल पिलाये  और बच्चे को कमजोरी से बचाने के लिए स्त नपान बहुत  जरूरी है।

बच्चों में गंदी बोतल से दूध पीने या फिर मिट्टी खाने से बच्चों के दांत  निकलते समय ज्यादा बीमारियां होती हैं अतः इस समय साफ-सफाई का ध्यान अवश्य  रखें ।

इन बातो का ध्यान रखकर आप भी बच्चो के दांत निकलते  समय होने वाली परेशानीयो से निजात पा सकते है।

दोस्तों अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो कृपया इसे आगे शेयर करें |

loading...
Loading...

Leave a Comment

Your email address will not be published.